Type to search

एक दिन, एक कहानी 2022

  • July 25, 2022
  • admin
Share

8 सितम्बर अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस के अवसर पर प्रथम बुक्स के वार्षिक कहानी पाठ अभियान, एक दिन, एक कहानी के साथ हम वापस आ गए हैं!

कोविड -19 महामारी के कारण दो सालों तक वर्च्वल यानी आभासी एक दिन, एक कहानी आयोजित करने के बाद, हम रीडिंग चैंपियंस द्वारा वापस इसे इसके वास्तविक रूप यानी आमने-सामने प्रारूप में आयोजित करने के लिए रोमांचित हैं!

एक दिन, एक कहानी बच्चों को मज़े से पढ़ने के लिए प्रोत्साहित करती है। यह भी प्रथम बुक्स के मिशन, ‘हर बच्चे के हाथ में एक किताब’ देखने के लक्ष्य को प्राप्त करने की दिशा में एक कदम है। इसका मकसद अधिक से अधिक बच्चों के साथ पढ़ने का आनंद साझा करना है। हमारा मानना ​​है कि पढ़ने की शुरुआत जल्दी करने से बच्चे अलग और बेहतर भविष्य की ओर अग्रसर होते हैं। कहानी पुस्तकें बच्चों के समक्ष नई, अलग और रोमांचक दुनिया की खिड़कियाँ खोल देते हैं। एक दिन, एक कहानी के माध्यम से हजारों रीडिंग चैंपियन भारत और दुनिया भर के बच्चों के साथ पढ़ने की ख़ुशी साझा करते हैं।

रीडिंग चैम्पियन बनने के लिए आज ही रजिस्टर करें!

व्यक्तिगत साइनअप फॉर्म : https://bit.ly/OneDayOneStory2022-SignUp-Individuals

संगठन साइनअप फॉर्म : https://bit.ly/OneDayOneStory2022-SignUp-Organisations

इस साल एक दिन, एक कहानी के लिए चुनी गई दो किताबें-

छोटे बच्चों (3-8 साल) के लिए कविता पुण्यमूर्ति द्वारा लिखित और एकता भारती द्वारा चित्रित टर्र

बड़े बच्चों (9-12) के लिए प्रिया कुरियन की लापता सुंदरी

कई भाषाओं में उपलब्ध इन पुस्तकों में से आप किसी भी भाषा में एक या दोनों पुस्तक चुन सकते हैं। यदि आप भारत में रहते/रहती हैं, तो हम आपको एक बैनर के साथ आपकी चुनी हुई भाषा में पुस्तक भेजेंगे, जिसे आप अपने सत्र के लिए उपयोग कर सकते/सकती हैं।

आप 1 सितंबर से 10 सितंबर के बीच किसी भी समय, सत्र आयोजित करने के लिए स्थान और समय चुन सकते हैं। पुस्तक के विषय से संबंधित अन्य गतिविधियों का भी संचालन कर सकते हैं।

आपके एक दिन, एक कहानी कहानी वाचन सत्र के बाद, हमें एक संक्षिप्त लेख भेजें या सत्र की कुछ तस्वीरें भेजें। हम इसे सोशल मीडिया पर प्रदर्शित करेंगे।

नोट-

  • वाजिब कारणों से हम पुस्तकों को अंतर्राष्ट्रीय स्थानों पर नहीं भेज सकते, लेकिन हम अंतर्राष्ट्रीय प्रतिभागियों को पुस्तक का पीडीएफ साझा करेंगे।
  • प्रिंट पुस्तकों की संख्या सीमित है। अगर आपके पंजिकरण के समय तक हमारे पास प्रिंट पुस्तकें उपलब्ध ना हुईं तो हम आपको पुस्तक की ई कॉपी भेजेंगे। आप उस पुस्तक का A4 पेपर पर प्रिंट निकाल सकते हैं या टैबलेट या लैपटॉप पर ई-बुक से सत्र संचालन कर सकते हैं।

आपको कुछ भी पूछना हो तो फॉर्म भरने से पहले [email protected] पर मेल कर सकते हैं।

अधिकतर पूछे जाने वाले सवाल/ आम सवाल

क्या पुस्तकें मुफ्त में भेजी जाएँगी या चैंपियन को इसके लिए भुगतान करना होगा?

अगर आप भारत के निवासी हैं तो आपको मुफ्त में पुस्तक भेजी जाएगी (जब तक की पुस्तक स्टॉक में है)।

क्या रीडिंग चैंपियन को ही स्थान चुनना है?

हाँ, अपने शहर या कस्बे में उस स्थान को चुनें जहाँ आप सत्र का आयोजन करना चाहते हैं। यह सरकारी स्कूल, एनजीओ, पुस्तकालय, किताब की दुकान, बगीचा, ट्रेन, आपकी इमारत, कोई भी ऐसा स्थान हो सकता है, जहाँ आप कुछ बच्चों के समूह के साथ यह सत्र संचालित कर सकें। 

संगठनों से संपर्क करें और उन्हें इसके बारे में समझाएँ। ज़्यादातर संगठनों को बिना किसी शुल्क के आपकी मेजबानी करने में खुशी होगी।

मैं पहली बार कहानी पाठ सत्र का आयोजन कर रही/रहा हूँ। कैसे तैयारी करूँ?

पुस्तक को कई बार पढ़ें। अगर आप बहुत छोटे बच्चों के समक्ष पढ़ रहे हैं, तो बच्चों का ध्यान बनाए रखने के लिए, पुस्तक को पढ़कर सुनाने के बजाए, किसी और तरीके से कहानी सुनाएँ। कहानी सुनाने के बाद बच्चों को आकर्षित करने के लिए कुछ गतिविधियों के बारे में सोचें। (उदाहरण : क्या कहानी को नाटक के रूप में दिखाया जा सकता है, क्या कहानी के माध्यम से किसी महत्त्वपूर्ण मुद्दे पर बात हो सकती है, आदि)।

क्या मैं एकाधिक सत्र संचालित कर सकती/सकता हूँ?

ज़रूर!!! हमारा मकसद अधिक से अधिक बच्चों तक पहुँचना है। हमारे ऐसे भी चैंपियन रहे हैं जिन्होंने मुख्य दिन, दो-तीन सत्र और आगे और भी सत्र संचालित किए हैं। 

क्या मुझे सत्र का दस्तावेजीकरण/को डोकुमेंट करना चाहिए?

हाँ ज़रूर! हम अपने सभी रीडिंग चैंपियन से उम्मीद रखते हैं कि वह अपने सत्र का दस्तावेजीकरण करें। आप सत्र से संबंधित छोटा-सा वीडियो, फोटो, या संक्षिप्त लेख भेज सकते हैं, ताकि हमें और पूरी दुनिया को पुस्तक पढ़ने के माध्यम से मिलने वाली ख़ुशी का अनुभव हो सके।

आप अपने सत्र को सोशल मीडिया पर #एक दिन, एक कहानी2022 #प्रथम बुक्स पर साझा कर सकते हैं। आप इसे एक दिन, एक कहानी फेसबुक ग्रुप पर भी पोस्ट कर सकते हैं।  

मैं सत्र का संचालन तो करना चाहती हूँ, पर 1 से 10 सितंबर के बीच व्यस्त हूँ। मुझे क्या करना चाहिए?

इस अभियान का उद्देश्य कहानियों का आनंद साझा करना है। अधिकांश लोग सत्र का संचालन 1 से 10 सितंबर के बीच, अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस के आस-पास करते हैं। लेकिन अगर आप ऐसा नहीं कर पा रहे हैं, तब भी इन्हीं दिनों के आस-पास किसी भी एक दिन आयोजित कर सकते हैं, क्योंकि तारीख से ज़्यादा बच्चों को कहानी का आनंद पहुँचाना महत्त्वपूर्ण है।

हम एक दिन, एक कहानी के लिए क्राउडफंडिंग भी कर रहे हैं। अगर आप इस अभियान में अपना योगदान देना चाहते हैं तो डोनेट-ए-बुक पर पुस्तकें दान कर सकते हैं। दान करने के लिए यहाँ क्लिक करें : https://bit.ly/3bYVAbu

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DISCLAIMER :Everything here is the personal opinions of the authors and is not read or approved by pratham books before it is posted. No warranties or other guarantees will be offered as to the quality of the opinions or anything else offered here